दूरस्थ अंचल के अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ी वर्ग, अल्पसंख्यक वर्ग को रोजगार से जोड़ने लॉट्री पद्धति से 20 हितग्राहियों का किया गया चयन

    जशपुरनगर 07 नवम्बर 2020

कलेक्टर श्री महादेव कावरे ने आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति मर्यादित चयन समिति की समीक्षा बैठक ली। कलेक्टर ने लॉट्री पद्धति से हितग्राहियों का विभाग के अंतर्गत योजनाओं से लाभांवित करने के लिए 20 हितग्राहियों का चयन किया गया। उन्होंने कहा कि दूरस्थ अंचल के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक वर्ग को प्राथमिकता से ऋण की राशि स्वीकृत करें ताकि वे अपना खुद का व्यवसाय करके आत्मनिर्भर बन सके। उन्होंने आज राष्ट्रीय निगम की योजना अंतर्गत अनुसूचित जनजाति ट्रैक्टर ट्राली योजना, अनुसूचित जनजाति गुड्स कैरियर योजना, अनुसूचित जनजाति ई-रिक्शा योजना, अनुसूचित जनजाति स्मॉल बिजनेस योजना, आदिवासी महिला सशक्तिकरण योजना, आदिवासी महिला स्व-सहायता समूह योजना, पिछड़ा वर्ग टर्म लोन, शिक्षा लोन, अल्पसंख्यक टर्म लोन, अनुसूचित जनजाति शिक्षा ऋण योजना, अनुसूचित जाति वर्ग मिनी माता स्वावलंबन योजना के अंतर्गत 20 हितग्राहियों का चयन किया गया। जिला अंत्यवासायी सहकारी विकास समिति मर्यादित जशपुर के कार्यपालन अधिकारी श्री योगेश कुमार धु्रव ने बताया कि विभाग को विभिन्न येाजना के तहत् लोन राशि स्वीकृत करने के लिए 65 लाख लक्ष्य दिया गया है। जहां हितग्राहियो ंको ट्रैक्टर ट्राली, गुड्स कैरियर, शिक्षा ऋण के तहत् 1 लाख, 2 लाख, 3 लाख तक के ऋण की राशि की स्वीकृति दी गई है। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री के.एस.मण्डावी, डिप्टी कलेक्टर आकांक्षा त्रिपाठी, कृषि विभाग, जिला उद्योग, परिवहन विभाग, आदिवासी विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे।  
स.क्र./2116/नूतन

Source: http://dprcg.gov.in/