कोरबा 02 नवंबर 2020

रेत खदानों के शुरू होने के बाद भी अवैध रेत खनन एवं परिवहन रूक नहीं रहा है। रेत चोरों ने अब ट्रेक्टरों में अवैध रूप से खनिजरेत को तिरपाल लगाकर वैध दिखाने की कोशिश कर परिवहन का नया तरीका ईजाद करने की कोशिश में लगे हैं। ऐसे ही एक रेत चोरी और अवैध परिवहन के मामले में आज टास्क फोर्स के सदस्य एवं कार्यपालिक दण्डाधिकारी श्री पंचराम सलामे ने उरगापंतोरा मार्ग में स्थित ग्राम सेमीपाली के मुख्य मार्ग पर कार्यवाही कर एक ट्रेक्टर को जप्त किया।
          प्राप्त जानकारी के अनुसार आज दोपहर करीब साढ़े बारह बजे उरगापंतोरा मार्ग की ओर तरदा, कनकी की ओर क्षेत्र भ्रमण में कार्यपालिक दण्डाधिकारी श्री सलामे निकले थे। सेमीपाली के समीप स्थित ग्राम कुदुरमाल की सीमा से लगे हसदेव नदी क्षेत्र से अवैध रूप से रेत खनन कर ग्राम उरगा की ओर परिवहन करते हुए एक ट्रैक्टर क्रमांक CG 12 AY 7610 को रूकवाकर रेत की राॅयल्टी पर्ची एवं अन्य दस्तावेजों की मांग श्री सलामे ने वाहन चालक से की। वाहन चालक श्री शत्रुघन केंवट ने पहले तो जाँचकर्ता अधिकारी श्री सलामे को गुमराह करते हुए रेत को भैंसामुड़ा की स्वीकृत रेत खदान से लाना और राॅयल्टी पर्ची आदि दस्तावेज वाहन मालिक उरगा निवासी के घर पर होना बताया। जांच अधिकारी के द्वारा संदिग्धरूप से परिवहन की शंका पर कड़ाई से पूछताछ करने पर वाहन चालक ने सच्चाई बता दी। वाहन चालक ने बताया कि वह रेत को कुदुरमाल से लगे हसदेव नदी के अवैध घाट से ला रहा है। ट्रैक्टर उरगा निवासी किसी दिनेश अग्रवाल को होना बताया जा रहा है। श्री सलामे ने यह पूरी कार्रवाई छत्तीसगढ़ गौण खनिज नियमावली 1966 के तहत की है और रेत से भरे ट्रैक्टर को जप्त कर उरगा थाना में पुलिस के सुपुर्द किया है।
उल्लेखनीय है कि कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल के निर्देश पर रेत चोरों पर लगाम लगाने तथा रेत के अवैध खनन एवं परिवहन को रोकने हेतु जिला स्तरीय टाॅस्क फोर्स का गठन किया गया है। टाॅस्क फोर्स द्वारा रेत चोरों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। छह सदस्यीय इस टास्क फोर्स के प्रभारी डिप्टी कलेक्टर आशीष देवांगन बनाए गए है। नायब तहसीलदार पंचराम सलामे, सहायक खनिज अधिकारी सबीना बेगम, पर्यावरण विभाग के सहायक अभियंता विजय पोर्ते, खनि निरीक्षक उत्तम खूँटे और नगर सैनिक रमाकांत दुबे इस टास्क फोर्स के सदस्य बनाए गए है। कलेक्टर ने टास्क फोर्स को अवैध रेत उत्खनन, परिवहन और भंडारण के प्रकरणों पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए है।
जिला प्रशासन आम लोगों को रियायती दरों पर रेत सुलभरूप से उपलब्ध हो सके, इस लिहाज से रेत चोरो पर लगातार कार्रवाई कर रहा है। नदीनालो में बेतरतीब खुदाई करते खनिज संपदा का दोहन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई जारी है। प्रशासन यह भी सुनिश्चित कर रहा है कि वैध रेट घाटों में भी पूरी पारदर्शिता के साथ निर्धारित दरों पर ही रेत की बिक्री की जावे और ऐसा करने वालों पर निरन्तर कार्रवाई भी की जा रही है।
क्रमांक 621/रात्रे/नागेश/

Source: http://dprcg.gov.in/