DA Image

आज श्री शीतलाष्टमी व्रत है। शीतला माता साफ-सफाई, स्वच्छता एवं आरोग्य की देवी हैं। मान्यता है कि शीतला माता की पूजा करने से परिवार को रोग दोष और बीमारियों से मुक्ति मिलती है। 

आज राहुकाल का समय प्रात: 9 बजे से प्रात: 10 बज कर 30 मिनट तक रहेगा। 

सूर्य दक्षिणायण। सूर्य उत्तर गोल। वर्षा ऋतु। राहुकालम्। 23 श्रावण (सौर) शक 1943, 30 श्रावण मास प्रविष्टे 2078, 4 मुहर्रम सन् हिजरी 1443, श्रावण शुक्लषष्ठी प्रात: 11 बज कर 51 मिनट तक उपरांत सप्तमी। चित्रा नक्षत्र प्रात: 6 बज कर 56 मिनट तक तदनंतर स्वाति नक्षत्र सूर्योदय के पहले 5 बज कर 44 मिनट तक उपरांत विशाखा नक्षत्र। शुभ योग प्रात: 11 बज कर 12 मिनट तक पश्चात शुक्ल (शुक्र) योग। गर करण। चंद्रमा तुला राशि में (दिन-रात)।    

पं. वेणीमाधव गोस्वामी