24 अगस्त, गुरुवार, 02, भाद्रपद (सौर) शक संवत् 1945, 08 भाद्रपद मास प्रविष्टे (पंजाब पंचांग) 2080, 06 सफर सन् 1445, श्रावण शुद्ध शुक्ल अष्टमी (विक्रमी संवत्) रात्रि 03.11 बजे तक। विशाखा नक्षत्र प्रात 09.04 बजे तक, ऐंद्र योग रात्रि 08.36 बजे तक, विष्टि (भद्रा) करण दोपहर 3.22 बजे तक, चंद्रमा वृश्चिक राशि में (दिन-रात) सूर्य दक्षिणायन। सूर्य उत्तर गोल। शरद ऋतु। दोपहर 01.30 बजे से दोपहर 3 बजे तक राहुकालम्। श्री दुर्गाष्टमी। वरद् महालक्ष्मी अष्टमी व्रत। मेला नैना देवी।

सूर्योदय- 05:55 ए एम
सूर्यास्त- 06:52 पी एम
चन्द्रोदय- 12:52 पी एम
चन्द्रास्त- 11:24 पी एम

आज के शुभ मुहूर्त-

ब्रह्म मुहूर्त- 04:27 ए एम से 05:11 ए एम
प्रातः सन्ध्या- 04:49 ए एम से 05:55 ए एम
अभिजित मुहूर्त- 11:57 ए एम से 12:49 पी एम
विजय मुहूर्त- 02:33 पी एम से 03:25 पी एम
गोधूलि मुहूर्त- 06:52 पी एम से 07:14 पी एम
सायाह्न सन्ध्या- 06:52 पी एम से 07:58 पी एम
अमृत काल- 10:46 पी एम से 12:22 ए एम, अगस्त 25
निशिता मुहूर्त- 12:01 ए एम, अगस्त 25 से 12:46 ए एम, अगस्त 25
सर्वार्थ सिद्धि योग- 09:04 ए एम से 05:55 ए एम, अगस्त 25

आज के अशुभ मुहूर्त-

Also Read
Aaj ka panchang 14 june: वट सावित्री पूर्णिमा आज, शुभ पंचांग से जानें शुभ मुहूर्त व राहुकाल

राहुकाल- 02:00 पी एम से 03:38 पी एम
यमगण्ड- 05:55 ए एम से 07:32 ए एम
आडल योग-05:55 ए एम से 09:04 ए एम
दुर्मुहूर्त- 10:14 ए एम से 11:06 ए एम
गुलिक काल- 09:09 ए एम से 10:46 ए एम