Hindustan Hindi News

Today Panchang 3 अक्टूबर: नवरात्रि की अष्टमी आज, शुभ पंचांग से जानें राहुकाल व शुभ मुहूर्त

श्री दुर्गाष्टमी व्रत। अष्टमी का हवनादि आज ही करें। महाष्टमी। पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में सरस्वती देवी का पूजन। अन्नपूर्णा परिक्रमा समाप्त सायं 4.38 बजे पर। ओली प्रारंभ। सूर्य दक्षिणायन। सूर्य दक्षिण गोल। शरद ऋतु। प्रात 7. 30 मिनट से 9 बजे तक राहुकालम्। 03, अक्तूबर, सोमवार,़ 11 आश्विन (सौर) शक 1943, 16 आश्विन मास प्रविष्टे 2079, 06 रवि उल अव्वल सन् हिजरी 1444, आश्विन शुक्ल अष्टमी सायं 04.38 बजे तक उपरांत नवमी, पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र रात्रि 12.25 बजे तक तदनंतर उत्तराषाढ़ा नक्षत्र, शोभन योग मध्याह्न 02.21 बजे तक पश्चात अतिगण्ड योग, बवकरण चंद्रमा धनुराशि में (दिन-रात)।

त्यौहार और व्रत
दुर्गाष्टमी

सूर्य और चंद्रमा का समय
सूर्योदय – 6:23 AM
सूर्यास्त – 6:08 PM
चन्द्रोदय – Oct 03 1:34 PM
चन्द्रास्त – Oct 04 12:20 AM

आज के अशुभ काल
राहू – 7:51 AM – 9:19 AM
यम गण्ड – 10:47 AM – 12:15 PM
कुलिक – 1:44 PM – 3:12 PM
दुर्मुहूर्त – 12:39 PM – 01:26 PM, 03:00 PM – 03:47 PM
वर्ज्यम् – 07:53 AM – 09:23 AM

यह भी पढ़ें:   श्री गुरुतेग बहादुर जी का इतिहास में है अद्वितीय स्थान, कहलाए हिंद दी चादर

आज के शुभ काल
अभिजीत मुहूर्त – 11:52 AM – 12:39 PM
अमृत काल – 07:54 PM – 09:24 PM
ब्रह्म मुहूर्त – 04:46 AM – 05:34 AM